पायरिया का उपचार और मसूड़ों की सूजन के 5 आसान घरेलू नुस्खे

Dental Health - दातों की सेहत पायरिया का उपचार और मसूड़ों की सूजन के 5 आसान घरेलू नुस्खे

सुंदर और स्वस्थ दाँत सुंदरता और अच्छी सेहत की निशानी है पर हमारे खाने पिने की गलत आदतों और दांतों की देखभाल ना करने के कारण दांत पिले पड़ना, दांतों में सड़न, कीड़ा लगना, मसूड़ों से पस और खून निकलना जैसी समस्याएं अक्सर हमें परेशान करती रहती है। पायरिया दांतो से जुडी ऐसी ही एक बीमारी है जिसमें मसूडो से खून निकलने लगता है और मुँह से बदबू आती है। दांत साफ़ करने के लिए लोग ब्रश तो करते है पर वे अपनी जीभ को साफ़ नहीं करते जिससे मुँह में हानिकारक बैक्टीरिया पनपने लगता है जो पायरिया होने की वजह बनता है। अगर समय रहते पायरिया से छुटकारा पाने के उपाय ना करे तो मसूढ़े कमज़ोर होने लगते है और दांतों के गिरने तक की नोबट आ जाती है। कुछ लोगो ये भी मानते है की ये बीमारी एक बार हो जाए तो इसका इलाज नहीं कर सकते पर हम कुछ घरेलू तरीके और आयुर्वेदिक नुस्खे अपना कर पायरिया का उपचार कर सकते है। आइए जाने ayurvedic and home remedies tips (gharelu nuskhe) for payriya treatment in hindi.

पायरिया का उपचार के घरेलू उपाय, Payriya ka ilaj in hindi

पायरिया का कारण : Payriya Causes

  • खाने पीने के छोटे छोटे कण दांतों में फस जाने से कैविटी हो जाती है, मसूढ़ो में इन्फेक्शन हो जाता है और धीरे धीरे दांत सड़ने लगते है।
  • दांतो की देखभाल ना करना पायरिया होने का बड़ा कारण है।
  • पेट ठीक से साफ़ ना होना।
  • हेल्थी चीजें ना खाना।

पायरिया के लक्षण : Payriya Symptoms

  • मसूड़ों से पस और खून निकलना।
  • मसूड़ों पर जलन और छाले होना।
  • दाँत हिलने लगना।
  • मुँह में से बदबू आना।

पायरिया का उपचार के घरेलू उपाय और देसी नुस्खे

Payriya Treatment Tips in Hindi

1. चुटकी भर हल्दी नमक में मिला कर सरसों के तेल की कुछ बूंदे मिला कर दांतों पर हलकी मालिश करे और 15 मिनट तक कुल्ला ना करे और मुंह में जो लार बने उसे बाहर थूक दे।

2. ब्रश करने के बाद थोड़ा सा नमक राई के तेल में मिला कर उंगली से teeths और मसूढ़ों पर हल्की मालिश करने पर मसूड़ों से खून आना बंद हो जाता है।

3. नमक को सरसों के तेल में मिला ले दांतो पर मंजन करे, इस उपाय से भी पायरिया ठीक होता है। अगर सेंधा नमक प्रयोग करे तो दांत मजबूत होते है और दांतों का हिलना भी बंद होता है।

4. पायरिया का इलाज में अमरूद खाने से भी फायदा मिलता है, इसमें विटामिन सी अधिक होता है। कच्चे अमरूद को नमक लगा के खाए।

5. नीम की पत्तियों की राख, थोड़ा सा कपूर और कोयले का चुरा इन तीनो को अच्छे से मिलाकर रात को सोने से कुछ देर पहले मसूड़ों पर लगाने पर पूस बननी रूकती है और खून का निकलना भी बंद होता है। नीम का दातून करने पर भी पायरिया से राहत मिलती है।

पायरिया का इलाज आयुर्वेदिक तरीके से

1. शहद को नींबू के रस में मिलाकर मसूड़ो पर मालिश करने से पस निकलना ठीक होता है।

2. एक आंवला हर रोज चबा चबा कर खाए, इसका रस पायरिया ठीक करने में काफी असरदार है।

3. आम की गुठली पीस कर चूर्ण बना ले और इससे दांतों को मंजन करने पर पायरिया से राहत मिलती है।

4. एक ग्लास गुनगुने पानी में लौंग के तेल की 5 बूंदे मिलाकर कुल्ला करने से भी पायरिया से छुटकारा मिलता है।

5. गेंहू के जवारे का रस भी पायरिया के इलाज की बढ़िया आयुर्वेदिक दवा है। गेंहू के जवारे के रस से पहले मुंह में कुल्ला करे फिर इसे पी जाए। इस उपाय से मुंह के बैक्टीरिया नष्ट हो जाते है।

दाँत में दर्द कीड़ा और पायरिया का रामबाण इलाज

दाँत में कीड़ा लगा हो, दर्द हो रहा हो या फिर पायरिया की समस्या हो प्याज का उपयोग चमत्कारी तरीके से फायदा करता है। प्याज का एक टुकड़ा तवे पर गरम करे और दांतों के बीच दबा कर मुंह बंद कर ले। कुछ देर में लार बनने लगेगी, इस लार को पहले मुँह में चारो और घुमाए फिर बाहर थूक दे। इस घरेलू नुस्खे को 1 हफ्ते तक लगातार हर रोज 3 से 4 बार करने पर पायरिया से छुटकारा मिलने लगेगा, मसूड़ों को मजबूती मिलेगी, दांत दर्द से राहत मिलेगी और दांत के कीड़े मर जाएँगे। Baba Ramdev का बताया हुआ ये उपाय दांतों की समस्याओ में रामबाण काम करता है। प्याज के पानी से दांतों की मालिश करने से कैविटी की समस्या से भी बच सकते है।

मसूड़ों की सूजन दूर करने के घरेलू टिप्स

  1. नमक के साथ अदरक को मिलाकर पीस कर मसूढ़ों पर मलने से सूजन कम होती है।
  2. अजवाइन को भुन ले और इसमें 2 बूंदे राई के तेल की मिलाकर मसूड़ों की मालिश करे।
  3. फिटकरी का चूर्ण इस्तेमाल करने पर भी मसूढ़ों के रोग दूर होते है।
  4. थोड़ा सा कपूर अरंडी के तेल में मिलाकर दिन में 2 बार मसूढ़ों की मालिश करे।
  5. नींबू का रस पानी में डाल कर कुल्ला और गरारे करने पर मसूड़ों की सूजन और मुंह की बदबू ठीक होती है।

पायरिया से बचाव के उपाय

  • पानी जादा पिए।
  • विटामिन सी पर्याप्त मात्रा में ले।
  • दिन में दो बार ब्रश या फिर मंजन करे।
  • कुछ भी खाने के बाद कुल्ला जरूर करे।
  • तंबाकू खाने से बचे और धूम्रपान से भी परहेज करे।

घरेलू उपाय औरआयुर्वेद दवा  उस समय काफी मददगार होती है जब हम किसी बीमारी से परेशान हो और कोई डॉक्टर ना मिले। इसके इलावा घरेलु तरीके से इलाज सस्ता भी पड़ता है और इनसे नुकसान भी नही होता।

दोस्तों पायरिया का उपचार के घरेलू उपाय, Payriya Treatment Tips in Hindi का ये लेख आपको कैसा लगा हमें कमेंट कर के बताये और अगर आप के पास दांत दर्द, मसूड़ों की सूजन या पायरिया का इलाज के आयुर्वेदिक नुस्खे है तो हमारे साथ भी शेयर करे।

Recent Articles

मोतियाबिंद को ठीक करने के लिए कौन से घरेलू उपचार का उपयोग करना चाहिए

मोतियाबिंद आँखों में होने वाला एक रोग है, उसका इलाज करने के लिए सबसे पहले उसकी गंभीता का पता होना चाहिए| अगर मोतियाबिंद की...

मोतियाबिंद के दौरान क्या खाएं

अक्सर बहुत सारे लोग आँखों में मोतियाबिंद की बीमारी हो जाने पर बहुत परेशान हो जाते है| काफी समय पहले मोतियाबिंद बहुत घातक बीमारी...

मोतियाबिंद के दौरान किन चीजों से बचना चाहिए

आँखे हम सभी के लिए अनमोल और बहुमूल्य होती है और कोई भी उन्हें खोना नहीं चाहेगा| आँखों में होने वाले रोगो में से...

मोतियाबिंद से जुड़े जोखिम और जटिलताएं क्या हैं

मोतियाबिंद की परेशानी में अगर आप लापरवाही करते है तो धीरे धीरे बढ़कर आपकी पूरी आँख को प्रभावित कर देता है और आपकी आँखों...

मोतियाबिंद का इलाज

मोतियाबिंद का इलाज आपकी आँखों की जाँच करने के बाद ही उचित ढंग से किया जाता है| कई बार अगर परेशानी ज्यादा नहीं है...

14 COMMENTS

    • दांतों से खून आना पायरिया के लक्षण में से एक है, आप इसके इलाज के लिए घरेलू उपाय और नुस्खे ऊपर लेख में पढ़े.

  1. Mere danto mein infection aur pash ban raha hai. Doctor ne kaha hai ki R.T.C karna padega kirpya aap bta sakte iske gharelu upchar kya ho sakte hai.

    • आपको पायरिया है जीभी से जीभ की अच्छे से सफाई रोजाना ब्रश करने के बाद करें एवं रोज़ सुबह उठकर खाली पेट नींबू के रस वाला पानी पिये, निश्चय ही लाभ प्राप्ति होगी.

    • दांत में दर्द का इलाज से संबंधित लेख की जानकारी आप ऊपर लेख में पढ़ सकते है।

  2. Main roj manjan bhi karti hu ache se dekh bhal karti par fir bhi parat si jamti rahti hai danto me dard hota rahta hai.

  3. मेरी जाड में कीड़ा लगने से खड‌डा हो गया है और दर्द भी बहुत होता है जी उसे में जाड को निकलवाना नहीं चाहता उसको वैसे ही ठीक करना चाहता हूं उसका अच्छी तरह समाधान बताएं कोई नकली जाड जा उसी को भरा जाऐ है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

5 × five =