प्रेगनेंसी में गर्भवती महिला को क्या खाना चाहिए क्या ना खाएं

Pregnancy in hindi प्रेगनेंसी में गर्भवती महिला को क्या खाना चाहिए क्या ना खाएं

प्रेगनेंसी में क्या खाना चाहिए और क्या ना खाएं: प्रेगनेंसी के दौरान बेबी की अच्छी सेहत और सही विकास के लिए ये जरुरी है की प्रेग्नेंट लेडी संतुलित और पोषक तत्वों से भरपूर आहार ले। गर्भावस्था में गर्भवती महिला को ज्यादा कैलोरी की जरुरत होती है। गर्भवती महिला को सुरक्षित डिलीवरी और सेहतमंद बच्चे को जन्म देने के लिए कई छोटी और बड़ी बातों का ध्यान देना होता है जैसे की कैसे सोना चाहिए, क्या योग एक्सरसाइज करना चाहिए या नहीं और प्रेगनेंसी में क्या खाएं क्या ना खाए। पौष्टिक भोजन लेना प्रेगनेंसी के समय सबसे जरुरी है क्यूंकि बच्चे का मानसिक व शारीरिक विकास सही से हो ये माँ के द्वारा लिए गए आहार पर निर्भर करता है। आज हम इस लेख में हम जानेंगे जाँएंगे pregnancy diet tips in hindi.

प्रेगनेंसी में क्या खाना चाहिए क्या ना खाएं, Pregnancy diet tips in hindi

 

प्रेगनेंसी में क्या खाना चाहिए और क्या ना खाएं

Pregnancy Diet Tips in Hindi

 

प्रेगनेंसी के वक़्त महिला जो कुछ भी खाती पीती है उसका सीधा असर पेट में पल रहे शिशु पर पड़ता है इसलिए ये जरुरी हो जाता है की गर्भवती महिला को कुछ भी उल्टा सीधा खाने से बचना चाहिए। गर्भावस्था में क्या खाएं इस बात की जानकारी लेने से पहले ये जानते है क्या नहीं खाना चाहिए।

1. कच्चा आहार खाने से बचना चाहिए क्यूंकि खाने की कच्ची चीजों में कुछ हानिकारक बैक्टीरिया हो सकते है जो माँ और बच्चे दोनों के लिए ठीक नहीं। इसलिए खाना हमेशा पक्का हुआ ही खाये।

2. वैसे तो समुद्री भोजन में ओमेगा 3 ज्यादा मात्रा में होता है जो बेबी के लिPए अच्छा होता है पर ऐसे भी कई समुद्री जीव है जो मरक्यूरी युक्त होते है और ये बच्चे के दिमागी विकास में नुकसान कर सकते है। जैसे शार्क, सलमोन फिश और केकड़ा से परहेज करे।

3. फल और कच्ची सब्जियों को कभी बिना धोये नहीं खाना चाहिए। सब्जी बनाने से पहले कच्ची सब्जी को अच्छे से धो ले। फल खाना हो तो भी इसे पहले अच्छे से धो ले।

4. गर्भवती महिला को धूम्रपान और शराब के सेवन से दूर रहना चाहिए। ये बच्चे को नुकसान दे सकते है और इनसे गर्भपात होने का खतरा भी होता है।

5. पपीता खाने से भी बचे। इसकी तासीर गरम होती है जो पेट में पल रहे शिशु के लिए ठीक नहीं है।

6. चाय और कॉफी का सेवन भी कम से कम करे।

7. प्रेगनेंसी के वक़्त कोई भी मेडिसिन डॉक्टर की सलाह के बिना ना ले। अगर किसी बीमारी के इलाज के लिए कोई दवा ले रहे है तो पहले चिकित्सक से राय जरूर ले। करे।

 

प्रेगनेंसी में क्या खाएं: Pregnancy me kya khaye in hindi

  1. माँ और बच्चे के शरीर के सभी अंगों को जरुरी पोषक तत्व मिलते रहे इसके लिए जरुरी है की पानी प्रयाप्त मात्रा में पीते रहे। प्रतिदिन 3-4 लीटर पानी पीने की आदत बनाये। इसके इलावा नारियल पानी और ताजे फलों का रस भी ले सकते है।
  2. शरीर में खून की कमी को पूरा करने और इससे बचने के लिए गर्भावस्था के शुरू में आयरन की गोली ले सकते है। प्राकृतिक तरीके से शरीर में खून की कमी दूर करने के लिए आहार में भी कुछ चीजें शामिल कर सकते है जैसे सोयाबीन, पालक, ब्रॉकली, जामुन, अंडे की जर्दी, मछली।
  3. खाने में फाइबर वाले फूड जादा ले। प्रेगनेंसी के दौरान कब्ज जैसी रोग से बचने के लिए अपने खाने में फाइबर वाली चीजें जरूर शामिल करे। जैसे हरी पत्तेदार सब्जियां, फ्रूट्स, ब्राउन राइस, ब्राउन ब्रेड, खजूर।
  4. गर्भवती महिला को ऐसी चीजें भी खानी चाहिए जिनमें विटामिन सी अधिक हो जैसे आंवला, खट्टे फल, मौसमी, संतरा।
  5. कारबोहाइड्रेट्स बॉडी में एनर्जी बढ़ाते है जो शरीर में चल रहे बदलाव के लिए आवश्यक है। बस इस बात का ध्यान रहे कारबोहाइड्रेट्स वाले फूड अधिक खाने से वेट भी बढ़ सकता है।
  6. पेट में पल रहे शिशु को न्यूरल ट्यूब का खतरा कम करने के लिए फॉलिक एसिड आवश्यक होता है। फ्रूट्स, हरी सब्जियां, संतरा, स्ट्रॉबेरी में फॉलिक एसिड ज्यादा मात्रा में होता है।
  7. प्रेग्नेंट वीमेन के लिए कैल्शियम प्रयाप्त मात्रा में भी ज़रूरी है। इससे हड्डियां मजबूत होती है और डिलीवरी के समय ज्यादा तकलीफ नहीं होती। प्रतिदिन 2 गिलास दूध पीने की आदत बनाये और साथ ही खाने में ऐसी चीजें खाए जिनमें कैल्शियम अधिक हो जैसे दही, ओट्स, साग, बादाम।
  8. बच्चे के पूर्ण मानसिक विकास के लिए आयोडीन ज़रूरी है। इसकी कमी होने से शिशु को मानसिक रोग का खतरा भी होता है, गर्भवती महिला अपने आहार में प्रयाप्त मात्रा में आयोडीन लेना चाहिए।
  9. प्रेगनेंसी डाइट में ड्राइ फ्रूट्स, अंडा और दालें भी शामिल करे। इसके इलावा उबले हुए चने और सोयाबीन में भी प्रोटीन अधिक होता है।
  10. शरीर के सभी अंगो का विकास सही से हो और सभी अंग मजबूत रहे इसके लिए प्रोटीन अहम् है। प्रोटीन त्वचा और मांसपेशियां बढ़ाने में मदद करता है।
  11. जाने बच्चा गोरा हो इसके लिए प्रेगनेंसी में क्या खाए

 

प्रेगनेंसी डाइट टिप्स

  • गर्भवती महिला को किसी भी प्रकार के नशे से दूर रहना चाहिए।
  • ज्यादा तीखा व मसाले वाला खाने से परहेज करना चाहिए।
  • भूखे पेट ना रहे व प्रेगनेंसी के समय व्रत भी ना करे।
  • हर 4 घंटे में कुछ खाते रहे, भूख ना हो तब भी खाये।
  • नियमित अंतराल में चेकअप के लिए अपने डॉक्टर के पास जरूर जाये।

 

दोस्तों प्रेगनेंसी में क्या खाना चाहिए क्या ना खाएं, Pregnancy diet tips in hindi का ये लेख कैसा लगा हमे बताये और आपके पास गर्भावस्था में क्या खाएं और क्या नहीं खाना चाहिए से जुड़े सुझाव है तो हमारे साथ भी साँझा करे।

Recent Articles

भेंगापन कैसे ठीक हो सकता है

अगर आपके या आपके बच्चे की आँख में भेंगापन जैसे परेशानी हो जाती है तो आप काफी चिंतित हो जाते है| भेंगेपन से आप...

भेंगापन से क्या जटिलताएं हो सकती हैं

भेंगेपन में इंसान की दोनों आँखे अलग अलग दिशा में देखती है और दिमाग को दो छवि प्राप्त होती है| कई बार दो में...

भेंगापन का परिक्षण कैसे करवाएं

आँखे हम सभी के लिए बहुमूल्य है, उन्ही के दवारा हम इस दुनिया को और उसकी ख़ूबसूरती को देख सकते है| आँखों में कई...

भेंगापन का क्या इलाज हो सकता है

आँखों का भेंगापन एक ऐसी समस्या जिसे अगर शुरुआत में ही पहचान कर इलाज करा लिया जाए तो ठीक हो सकता है वरना आपकी...

भेंगापन से बचने के उपाय

आंखों में भेंगापन किसी भी उम्र के आदमी और औरत को कभी भी हो सकता है| आँखों के भेंगेपन को हम आँखों का तिरछापन...

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here